shirdi wale sai baba lyrics

Shirdi wale sai baba lyrics-शिरडीवाले साईं बाबा

शिरडी के साईं बाबा, जिन्हें शिरडी साईं बाबा के नाम से भी जाना जाता है, एक भारतीय आध्यात्मिक गुरु थे, जिन्हें उनके भक्त संत और फकीर के रूप में मानते हैं। उन्हें अपने जीवनकाल में अपने हिंदू और मुस्लिम दोनों भक्तों के प्रति श्रद्धा है। ( Shirdi wale sai baba lyrics-शिरडीवाले साईं बाबा )

Shirdi Wale Sai Baba Song lyrics Detail

गीत: शिरडी साईं बाबा
एल्बम: अमर अकबर एंथोनी (1977)
गायक: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: लक्समीकांत, प्यारेलाल
गीतकार: आनंद बख्शी

shirdi wale sai baba lyrics in hindi

जमाने में कहाँ टूटी हुई तस्वीर बनती है
तेरे दरबार में बिगड़ी हुई तकदीर बनती है

तारीफ़ तेरी निकली है दिल से
आई है लब पे बनके कव्वाली

शिरडीवाले साईंबाबा,
आया है तेरे दर पे सवाली

लब पे दुआयें, आँखों में आँसू,
दिल में उम्मीदें, पर झोली खाली

शिर्डीवाले साईंबाबा,
आया है तेरे दर पे सवाली
शिर्डीवाले साईंबाबा,
आया है तेरे दर पे सवाली

ओ मेरे साईं देवा,
तेरे सब नाम लेवा।
जुदा इन्सान सारे,
सभी तुझको हैं प्यारे॥
सुने फ़रियाद सबकी,
तुझे है याद सबकी।
बड़ा या कोई छोटा,
नहीं मायूस लौटा॥

अमीरों का सहारा,
गरीबों का गुज़ारा।
तेरी रहमत का किस्सा बयान,
अकबर करे क्या॥

दो दिन की दुनियाँ,
दुनियाँ है गुलशन।
सब फूल काँटे,
तू सब का माली॥

शिरडीवाले साईंबाबा,
आया है तेरे दर पे सवाली॥

खुदा की शान तुझमे,
दिखे भगवान तुझमे।
तुझे सब मानते है,
तेरा घर जानते है॥

चले आते है दौड़े,
जो खुशकिस्मत है थोड़ें।
ये हर राही की मंजिल,
ये हर कश्ती का साहिल॥

जिसे सबने निकाला,
उसे तूने संभाला।
तू बिछड़ों को मिलाए,
बुझे दीपक जलाए॥

ये ग़म की रातें,
रातें ये काली।
इनको बना दे,
ईद और दीवाली॥

शिरडीवाले साईंबाबा,
आया है तेरे दर पे सवाली

लब पे दुआयें, आँखों में आँसू,
दिल में उम्मीदें, पर झोली खाली

शिरडीवाले साईंबाबा,
आया है तेरे दर पे सवाली

शिरडीवाले साईंबाबा,
आया है तेरे दर पे सवाली

Read more: kanha ab to murli ki lyrics


lyrics of shirdi wale sai baba

zamane me kahaan tuti hui tasvir banati hai
tere darabar me bigadi hui taqadir banati hai

tarif teri nikali hai dil se ai hai lab pe ban ke qavvali
shiradi vale sai baba aya hai tere dar pe savali

lab pe duae ankho me ansu dil me ummide par jholi khali
shiradi vale sai baba aya hai tere dar pe savali
dar pe savali, aya hai dar pe savali, savali
shiradi vale sai baba aya hai tere dar pe savali

o mere sai deva tere sab nam leva
juda insan sare sabhi tujhako hai pyare
sune fariyad sabaki tujhe hai yad sabaki
bada ya koi chhota nahi mayus lauta

amiro ka sahara garibo ka guzara
teri rahamat ka qissa bayan akabar kare kya

do din ki duniya duniya hai gulashan
sab phool kante tu sabaka mali

shiradi vale sai baba aya hai tere dar pe savali
khuda ki shan tujhame dikhe bhagavan tujhame
tujhe sab manate hai tera ghar janate hai

chale ate hai daude jo khush kismat thode
yahi har rahi ki mazil yaha har kashti ka sahil

jise sabane nikala use tune sambhala
tu bichhado ko mile bujhe dipak jalae
ye gam ki rate rate ye kali inako bana de id aur divali

shiradi vale sai baba aya hai tere dar pe savali
lab pe duae ankho me ansu dil me ummide par jholi khali

shiradi vale sai baba aya hai tere dar pe savali
shiradi vale sai baba aya hai tere dar pe savali.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *